Republic Day Status Hindi – For WhatsApp or Facebook Status With Quotes in Hindi & English

Republic Day Images


Republic Day Status Hindi


Here the post is related to ‘Republic Day of India’ celebrated on 26 January, each year. Generally, so many people search such kinds of Republic Day Status Hindi and related history behind this day. Here some significant issues are discuss behind this republic day celebrated in India. All the information are credible. These are collected from different trusted articles. You will get Republic Day Status Hindi after this brief discussion.

Why Republic Day is Important in India?

Before 1947, India was a colonial British state about 200 years (1857-1947). There were no any special constitutions to Indians. All the administrative power was controlled by the British government. After long time struggle India got freedom in the year 1947, 15th august. In this time there were no any forms of rules and regulations for leading the country well and In this situation some Indian great thinkers has taken the responsibilities to make a new forms of constitution for the citizens. They formed constitutional assembly with the leaders (299) from different part of the country. Dr. B.R. Ambedkar, Jawaharlal Nehru, Rajagopalachari, Rajendra Prasad, Sardar Vallabhbhai Patel, Abul Kalam Azad, Sarojini Naidu, Durgabai deshmukh, Vijaya Lakhmi Pandit and some others were the key figures of this assembly.

Drafting:

Benegal Narsing Rau (who became the first Indian judge in the international court of justice and was president of the UNSC) was appointed as the assembly’s constitutional adviser in 1946, who prepared initial draft for the first time. But, at august 1947 meeting of the constitutional assembly, committees were prepared. Rau’s draft was amended by the eight-person drafting committee chaired by Dr. B.R. Ambedkar after debate and discussion. Finally, a revised constitutional draft was submitted by this committee on 4th November, 1947. Then after long discussion revised constitution was adopted signed by 284 members on 26 January, 1949 – known as constitution day. At last, in the year 1950, 26 January – it became the law of India. Each page was decorated by the artists of Shantiniketan. From this time each year in India 26 January is celebrated as the ‘Republic day’.

भारत में गणतंत्र दिवस क्यों महत्वपूर्ण है?

1947 से पहले, भारत लगभग 200 वर्षों (1857-1947) में एक औपनिवेशिक ब्रिटिश राज्य था। भारतीयों के लिए कोई विशेष आधार नहीं थे। सारी प्रशासनिक शक्ति ब्रिटिश सरकार द्वारा नियंत्रित थी। लेकिन, लंबे समय के संघर्ष के बाद भारत को वर्ष 1947 में स्वतंत्रता मिली, 15 वां अगस्त। लेकिन, इस समय में देश को अच्छी तरह से आगे बढ़ाने के लिए कोई नियम और कानून नहीं थे। इस स्थिति में कुछ भारतीय महान विचारकों ने ‘लोगों द्वारा लोगों के लिए’ लोगों के संविधान के नए रूपों को बनाने के लिए ज़िम्मेदारियाँ ली हैं। उन्होंने देश के विभिन्न हिस्सों के नेताओं (299) के साथ संवैधानिक सभा का गठन किया। डॉ। बी.आर. अंबेडकर, जवाहरलाल नेहरू, राजगोपालाचारी, राजेंद्र प्रसाद, सरदार वल्लभभाई पटेल, अबुल कलाम आज़ाद, सरोजिनी नायडू, दुर्गाबाई देशमुख, विजया लख्मी पंडित और कुछ अन्य इस विधानसभा के प्रमुख व्यक्ति थे।

मसौदा:

बेनेगल नरसिंग राऊ (जो अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय में पहले भारतीय न्यायाधीश और UNSC के अध्यक्ष थे) को 1946 में विधानसभा के संवैधानिक सलाहकार के रूप में नियुक्त किया गया था, जिन्होंने पहली बार प्रारंभिक मसौदा तैयार किया था। लेकिन, 1947 में संवैधानिक सभा की बैठक में, समितियों को तैयार किया गया था। डॉ। बीआर की अध्यक्षता वाली आठ-व्यक्ति मसौदा समिति द्वारा राऊ के मसौदे में संशोधन किया गया। बहस और चर्चा के बाद अंबेडकर। अंत में, इस समिति द्वारा 4 नवंबर, 1947 को एक संशोधित संवैधानिक मसौदा प्रस्तुत किया गया था। फिर लंबी चर्चा के बाद संशोधित संविधान 264 सदस्यों द्वारा 26 जनवरी, 1949 को हस्ताक्षरित किया गया – जिसे संविधान दिवस के रूप में जाना जाता है। आखिरकार, १ ९ ५०, २६ जनवरी में – यह शांतिनिकेतन के कलाकारों द्वारा प्रत्येक पृष्ठ को सजाने के बाद भारत का कानून बन गया। इस समय से भारत में प्रत्येक वर्ष 26 जनवरी को ‘गणतंत्र दिवस’ के रूप में मनाया जाता है.


Republic Day Status Hindi


“फर्क तो है तेरा और मेरा इश्क़ में,
तू माशूक की खातिर रात भर जागता है,
और मुझे मातृभूमि की हालत सोने नेहीं देता।”  

✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽

“Phark to hai tera aur mera ishq mein,
tu mashuk ki khatir rat bhar jaagta hai,
aur mujhe matrbhumi ki halat sone nehi deta.


Republic Day Status Hindi


तिरंगा झण्डा मेरा पहचान है,
उसको खो कर जीने का क्या फायदा।”

✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽

“Tiranga jhanda mera pahachaan hai,
usako kho kar jeene ka kya phaayada.”


Republic Day Status Hindi


मेरा हिंदुस्तान महान था, महान है,
और महान रहगा।”

✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽

“Mera Hindustan mahan tha, mahan hai,
aur mahan rehga,


Republic Day Status Hindi


“मुझे कोई राज्य का नाम सुनाई नेही देता,
सुनाई देता तो है – हम सब भारतीय है।“

✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽

“Mujhe koi rajya ka naam sunai nehi deta,
sunai deta to hai – ham sab bhartiya hai.” 


Republic Day Status Hindi


“जब तुम घर जाओंगे,
उन्हे हमारे बारे में बताना।
और कहना उनके भबीस्य के लिए
हमने अपना वर्तमान दे दिया।“

✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽

“Jab tum ghar jaoge,
unhe hamare bare me batana.
aur kehna unke bhabishya ke liye
hamne apna bartaman de diya.”


Search this post on Google..
✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽✽

Other posts:

  1. Status on Life and Love
  2. Happy Life Status in Hindi
  3. Hindi Status for Life
  4. Love Status in Hindi for Girlfriend
  5. Golden Thoughts of Life in Hindi
  6. Life Status in Hindi 2 Line
  7. Cute Love Status in Hindi

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *